सूचना

  • सूचना : आवश्यकता है पत्रकारिता में रूचि रखने वाले देशभक्त नागरिकों की जोकि कि व्यवस्था सुधार एवं राष्ट्रउत्थान के हमारे मिशन में अपनी भागीदारी निभाना चाहते हों।
  • यदि आप भी हमसे जुड़ना चाहते हैं तो अपना बायोडेटा This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. पर भेजें या अविलम्ब सम्पर्क करें 94145 75375 अथवा 9414349467

मुख्य समाचार

2019 के लिए मोदी ने खेला प्रॉक्सी वोटिंग का दांव

ई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कैबिनेट से आप्रवासी भारतीयों की प्रॉक्सी वोटिंग को मंजूरी दिलवा कर 2019 के लिए बड़ा दांव खेल दिया है। दुनिया भर में भारतीय मूल के करीब 3 करोड़ लोग रहते हैं जिनमें से एक 1 करोड़ 30 लाख लोग एन.आर.आई. हैं।मोदी की इन एन.आर.आई. वोटों पर नजर है। लिहाजा आम चुनाव से 22 महीने पहले कैबिनेट ने प्रॉक्सी वोटिंग को मंजूरी देकर इन आप्रवासी भारतीयों का मन जीतने की कोशिश...

अब मोदी के निशाने पर डाक्टर और दवा कंपनियां

मुम्बई: हमारा देश दुनिया के बड़े दवा बाजारों में से एक है। इसे देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार दवा निर्माता कंपनियों के लिए पहली दफा ऐसा कानून बना रही है जिसके तहत उन पर डाक्टरों एवं दवा दुकानदारों को 1000 रुपए से ज्यादा के गिफ्ट या ट्रिप देने पर पाबंदी लग जाएगी। हालांकि दुनिया के अन्य देशों में इस तरह के नियम आम हैं जिनका दवा कंपनियां पालन भी करती हैं लेकिन ये भारत में लागू नहीं हैं। यही वजह है...

डोकलाम विवाद पर फिर बोला चीन, 'संयम की भी सीमा होती है'

सिक्किम सेक्टर में पिछले 2 महीने से चल रहे डोकलाम विवाद को लेकर चीन ने एक बार फिर कड़ा रुख अपनाया है। चीन ने कहा है कि अभी तक भारत के साथ इस विवाद में उसने सद्भावना का रवैया अपनाया है लेकिन उसके संयम की भी एक सीमा है और भारत को इस मामले में अपने भ्रम को छोड़ देना चाहिए। चीन के रक्षा मंत्रालय की तरफ से गुरुवार रात यह प्रतिक्रिया आई। इससे पहले बीते महीने ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यह स्पष्ट...

ओसामा बिन लादेन को मैंने तीन गोलियां मारीं: रॉबर्ट ओ नील

2 मई 2011 को पाकिस्तान के जलालाबाद के ऐबटाबाद ठिकाने में आतंकी ओसामा बिन लादेन को अमरीकी नेवी सील कमांडो ने मार दिया था. ओसामा बिन लादेन पर गोलियां किसने चलाई थीं इस पर कोई आधिकारिक बयान तो नहीं है लेकिन एक नेवी सील ऑफिसर रॉबर्ट ओ नील ने एक किताब में ये दावा किया है कि ओसामा बिन लादेन की मौत उनकी चलाई गई तीन गोलियों से हुई. नेवी सील के 400 से अधिक अभियानों में शामिल रहे रॉबर्ट ने अपनी किताब...

अब कभी गुम नहीं होगा आपका आधार कार्ड!

डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के अपने उद्देश्य से सरकार ने आधार से जुडा एक ऐप लांच किया है। इसके जरिये यूजर्स अपना आधार की जानकारी (नाम, जन्म तिथि, लिंग, पता और तस्वीर) अपने साथ अपने एंड्राइड स्मार्टफ़ोन में लेकर घूम सकते हैं, जो इनके आधार नंबर के साथ लिंक्ड है।इसका नाम mAadhaar  रखा गया है। ये एेप अभी मोबाइल ऐप अभी केवल एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म पर काम करेगा। इस ऐप को डाउनलोड करने और रजिस्टर करने के...

लालू का ऑफर: माया मानी तो बदल जाएगा 120 लोकसभा सीटों का समीकरण

बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा राज्यसभा से इस्तीफा देने के कुछ घंटे के बाद ही राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने मायावती को राजद के कोटे से बिहार से राज्यसभा सदस्यता की पेशकश कर दी।हालांकि इस मामले पर अभी मायावती की प्रतिक्रिया आना अभी बाकी है लेकिन यदि मायावती ने लालू का ऑफर स्वीकारा तो बिहार और उत्तर प्रदेश की लोकसभा की 120 सीटों पर समीकरण बदल जाएंगे। उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 और बिहार में...

  • 2019 के लिए मोदी ने खेला प्रॉक्सी वोटिंग का दांव

    Friday, 04 August 2017 11:12
  • अब मोदी के निशाने पर डाक्टर और दवा कंपनियां

    Friday, 04 August 2017 11:08
  • डोकलाम विवाद पर फिर बोला चीन, 'संयम की भी सीमा होती है'

    Friday, 04 August 2017 11:06
  • ओसामा बिन लादेन को मैंने तीन गोलियां मारीं: रॉबर्ट ओ नील

    Wednesday, 19 July 2017 08:23
  • अब कभी गुम नहीं होगा आपका आधार कार्ड!

    Wednesday, 19 July 2017 08:19
  • लालू का ऑफर: माया मानी तो बदल जाएगा 120 लोकसभा सीटों का समीकरण

    Wednesday, 19 July 2017 08:15

बैस्ट रिपोर्टर एक्सक्लूसिव

अगर आपके पास है भारतीय पासपोर्ट तो बिना वीजा के घूमिए ये 58 देश

हर भारतीय की चाहत होती है विदेश घूमने की, लेकिन वीजा अनुमति की चिंता अक्सर इसमें बाधा बन जाती है। अगर आप भारतीय पासपोर्ट धारक हैं तो आप 58 देशों की यात्रा बिना वीजा (या वीजा ऑन अरावइल ) से कर सकते हैं। भारत पासपोर्ट पावर रैंकिंग में 59वां स्थान रखता है। इस कारण सभी भारतीय पासपोर्ट धारक 58 देशों की यात्रा वीजा के बिना या आगमन वीजा के साथ कर सकते हैं।  किसी भी देश की पासपोर्ट पावर रैंकिंग मूल रूप से उन देशों की संख्या पर आधारित होती है जो आपको वीजा (जिस देश के आप नागरिक है उसे मिलाकर) के बिना यात्रा करने की अनुमति देती है।  जानिए कौन से हैं वो 58 देश  संयुक्त राज्य अमेरिका और...

धरोहर : प्राचीन भारत में सिंचाई का प्रमुख साधन था चड़स

लोकजीवन में कुओं, बावडिय़ों आदि से खेतों की सिंचाई के लिए चमड़े से बने एक कुण्ड आकार के बड़े पात्र, जो पानी निकालने के लिए काम आता है, को चड़स कहा जाता है। चड़स को कुएं से खींचने के लिए पुरुषों तथा बैलों का भी प्रयोग किया जाता था। चड़स बनाने का काम चर्मकार तथा चमड़े को रंगने वाले लोग करते रहे हैं, जिन्हें रंगार या रंगर भी कहते हैं। चड़स को बनाने के लिए मरे हुए बैल, भैंस तथा भैंसे की पूरी खाल की आवश्यकता होती है। मृत पशुओं से उतारी गई खाल यदि चड़स के लिए छोटी पड़ती है तो उसमें अनेक टुकड़े जोड़ लिए जाते हैं। खाल का बना हुआ गोलाकार कुण्डनुमा पात्र, जो कुएं से पानी भरकर लाता है, उसे कई स्थानों...

डाॅ.ए.पी.जे.अब्दुल कलाम को समर्पित डिजिटल शिक्षा संबंधी परियोजना के वीडियो पाठ्यक्रम का लोकार्पण आज

बैस्ट रिपोर्टर साप्ताहिक के 13 वें स्थापना दिवस के अवसर पर ग्रामीण व पिछड़े क्षेत्रों के लिए डाॅ.ए.पी.जे अब्दुल कलाम को समर्पित डिजिटल शिक्षा संबंधी परियोजना ‘बैस्ट रिपोर्टर एकेडमी फाॅर इनटेलीजेन्ट नेशन-ब्रेन’ के तहत तैयार कक्षा-10 के विज्ञान व गणित विषय के वीडियो पाठ्यक्रम का लोकार्पण कल सोमवार 18 अप्रेल 2016 शाम 5.30 बजे पिंकसिटी प्रेस क्लब सभागार में शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी,ग्रामीण विकास व पंचायती राज मंत्री श्री सुरेन्द्र गोयल,महिला व बाल विकास मंत्री श्रीमती अनीता भदेल,जयपुर सांसद श्री रामचरण बोहरा,बार एसोसिएशन जयपुर के अध्यक्ष श्री राजेष महर्षि के सान्निध्य में किया जाना...

राजस्थान के सभी सरकारी सैकण्डरी स्कूलों के लिए कक्षा-10 विज्ञान विषय के निःषुल्क वीडियो पाठ्यक्रम की पेषकष

इनटरनेट वेबपोर्टल बैस्ट रिपोर्टर न्यूज डाॅट काॅम की ओर से राजस्थान के सभी सरकारी सैकण्डरी स्कूलों के लिए कक्षा-10 विज्ञान विषय के निःषुल्क वीडियो पाठ्यक्रम की पेषकष की गई है। करीब 90 घंटों का यह वीडियों पाठ्यक्रम कम्पयूटर व पैन ड्राइव की मदद से विद्यार्थियों के सामने किसी फिल्म की तरह नियमित रूप से चलाया जा सकता है। यह वीडियो पाठ्यक्रम न सिर्फ प्रदेष के लाखों विद्यार्थियों को विज्ञान विषय को बेहतर ढंग से समझने में कारगर सिद्ध होगा वरन् इसके माध्यम से विज्ञान विषय के षिक्षक भी लाभांवित होंगें। वीडियों पाठ्यक्रम को निःषुल्क प्राप्त करने संबंधी अधिक जानकारी के लिए सरकारी स्कूल के प्राचार्य या...

बस एक SMS से हो सकता है आपका स्मार्टफोन हैक

अक्सर आपके फोन पर जब भी कोई मैसेज आता है तो आप उसे तुरंत चैक करते हैं, लेकिन यह टैक्स मैसेज आपके स्मार्ट फोन के लिए खतरा हो सकता है।एनएसए के पूर्व कांट्रेक्टर एडवर्थ स्नोडेन ने कहा है कि ब्रिटिश खुफिया अधिकारी मात्र एक टेक्स्ट मैसेज भेजकर आपके फोन को हैक कर सकते हैं। वह बिना आपको पता चले ही आपके फोन से रिकार्डिंग के अलावा तस्वीरें भी खींच सकते हैं। बीबीसी पैनोरमा कार्यक्रम में ब्रिटिश सरकार के संचार मुख्यालय (जीसीएचक्यू) एजेंसी की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि वे आपके मोबाइल फोन पर अपना मालिकाना हक चाहते हैं। स्नोडेन ने दावा किया कि ब्लू कार्टून कैरेक्टर्स द स्मर्फ के बाद जीसीएचक्यू...

क्या कहा था महात्मा गांधी ने गोरक्षा पर

महात्मा गांधी ने अपनी प्रसिद्ध पुस्तक 'हिंद स्वराज’ में गोरक्षा के विषय में अपने विचार स्पष्ट किए थे. उनसे एक पाठक ने गोरक्षा के बारे में उनका विचार पूछा था. इसके जवाब में महात्मा गांधी ने कुछ यूँ अपनी राय ज़ाहिर की थी. पढ़िए गोरक्षा पर महात्मा गांधी की राय मैं ख़ुद गाय को पूजता हूं यानी मान देता हूं. गाय हिंदुस्तान की रक्षा करने वाली है, क्योंकि उसकी संतान पर हिंदुस्तान का, जो खेती प्रधान देश है, आधार है. गाय कई तरह से उपयोगी जानवर है. वह उपयोगी जानवर है इसे मुसलमान भाई भी कबूल करेंगे. लेकिन जैसे मैं गाय को पूजता हूं, वैसे मैं मनुष्य को भी पूजता हूं. जैसे गाय उपयोगी है वैसे ही मनुष्य...

चीन के क़रीब तो नहीं चला जाएगा नेपाल?

नेपाल में नया संविधान लागू होने के बाद भारत से उसके रिश्ते तनावपूर्ण हो गए हैं. ऐसे में, सवाल उठ रहे हैं क्या नेपाल पर चीन का असर बढ़ेगा?दरअसल, भारत की ओर से नेपाल में सामान की आवाजाही बंद होने से नेपाल में तेल से लेकर बुनियादी चीज़ों की क़िल्लत हो गई है.नेपाल के विदेश मंत्रालय ने इसे 'भारत की ओर से अघोषित आर्थिक प्रतिबंध' कहा है और इसे लेकर नेपाल में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं.स्थानीय मीडिया की ख़बरों के मुताबिक़, चीन नेपाल को आपात मदद करने की तैयारी में है और वहां एक तबक़े को इस बात का डर है कि कहीं नेपाल चीन के क़रीब तो नहीं चला जाएगा.राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि नरेंद्र मोदी के...

यूएनएससी में स्थायी सदस्यता: एक कदम और आगे बढ़ा भारत

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में स्थायी सदस्यता की अपनी दावेदारी में भारत एक कदम और आगे बढ़ा है। पीएम मोदी के हालिया अमेरिकी दौरे ने भारत के इस दावे को और मजबूती प्रदान की है। संयुक्त राष्ट्र द्वारा यूएनएससी में सुधार के लिए दस्तावेज आधारित वार्ता शुरू करने की पहल के बाद वैश्विक मंच पर पीएम मोदी ने जिस तरीके से आवाज बुलंद की है उससे सुरक्षा परिषद के विस्तार और उसमें भारत की भूमिका को लेकर उम्मीद जगी है। हालांकि, अभी पक्के तौर यह नहीं कहा जा सकता कि सुरक्षा परिषद में भारत को स्थायी सदस्यता मिल ही जाएगी। ऐसा इसलिए क्योंकि कई ऐसे देश हैं जो नहीं चाहते कि यूएनएससी में भारत को वीटो...

'कैथी गांव की गुफाओं में सारदानंद बनकर नेताजी ने बिताया था लंबा वक्त'

नई दिल्ली: नेताजी सुभाष चंद्र बोस के काफी लंबे वक्त तक उत्तर प्रदेश के कैथी गांव की गुफाओं में सारदानंद बनकर रहने की बात का खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, नेताजी काफी लंबे वक्त तक कैथी गांव की गुफाओ में संत बनकर भी रहे। कैथी गांव वाराणसी और गाजीपुर मार्ग पर स्थित है। नेताजी ने यहां सारदानंद बनकर लंबा वक्त बिताया था। 14 जनवरी 1952 को मकर संक्रांति वाले दिन नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने सारदानंद बनकर कैथी गांव में बनी गुफा में प्रवेश किया और यहां लंबा वक्त बिताया।  रिपोर्टों का कहना है कि नेताजी के लिए यहां अंग्रेजी अखबार अमृत बाजार पत्रिका की भी नियमित व्यवस्था की गई थी। नेताजी के...

नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ीं 64 फाइलें सार्वजनिक की गईं, मौत से जुड़े राज के खुलने की संभावना बढ़ी

कोलकाता : नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ी 64 फाइलों को शुक्रवार को कोलकाता में सार्वजनिक कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार, पश्चिम बंगाल सरकार ने नेताजी से जुड़ीं 64 फाइलों को कोलकाता पुलिस म्यूजियम में जनता के देखने के लिए रख दिया है और इसके डिजिटल संस्करण नेताजी के परिवार को सौंप दिए गए हैं। अब इस बात की संभावना बढ़ गई है कि नेताजी की मौत से जुड़े राज खुलेंगे। चूंकि सालों से सरकारी और पुलिस लॉकर में बंद नेताजी से जुड़ी 64 गुप्त फाइलों को अब सार्वजनिक कर दिया गया है। पश्चिम बंगाल सरकार ने आज नेताजी से जुड़ी इन फाइलों को उनके परिवार के सदस्यों की मौजूदगी में सार्वजनिक कर दिया। नेताजी के...

आंदोलक पुरुष-हिन्दी लघु हास्य व्यंग्य

आंदोलक पुरुष बहुत दिन से खाली बैठे थे। कोई उनको घास नहीं डाल रहा था। ऐसे में वह बाज़ार के सौदागरों के सरदार के पास पहुंच गये। उससे बोले-‘महोदय, आप तो अब काले तथा सफेद दोनों धंधों से खूब कमा रहे हैं। बहुत दिन से आपने मेरी सामाजिक संस्था को न तो चंदा दिया है न काम दिया है। अब मैं खाली बैठा हूं! आप मेरे बारे में कुछ सोचिये।’’       बाज़ार के सरदार ने कहा-‘‘आप अब गये गुजरे ज़माने का चीज हो गये हैं। जितना आपको आंदोलन का धंधा और चंदा देना था दे दिया। अब आप उसी के ब्याज पर खाईये।’       आंदोलक पुरुष ने कहा कि ‘‘अब तक तो ठीक था। बुढ़ा गया हूं। बीमारी के इलाज का खर्चा कम पड़ता है अगर आप चंदा या धंधा...

विवेकानंद का व्यक्तित्व स्वयं में महान है

व्यक्ति का इस धरा धाम पर आना और जाना सृष्टि का सनातन नियम है। जब से जगत नियन्ता ने इस सृष्टि का निर्माण किया, न जाने कितने लोग आये और अपना निर्धारित समय पूरा कर काल के गाल में समा गये, पर इतिहास उनमें से कुछ को ही याद करता है। स्वामी विवेकानंद उनमें से ही एक हैं। ऐसा कहते हैं कि कुछ लोग जन्म से ही महान होते हैं। कुछ लोग अपने परिश्रम से महानता अर्जित करते हैं और कुछ पर महानता थोप दी जाती है, पर इतिहास की चक्की बहुत महीन पीसती है। जिन पर महानता थोप दी जाती है, वे तभी तक सुर्खियों में रहते हैं, जब तक उनके परिजन या उनसे वैध−अवैध रूप से लाभान्वित हुए लोग सत्ता में रहते हैं। जैसे ही उनके हाथ से...

रिंग रोड़ परियोजना: बिना अपोइंटेड डेट एवं एनवायरमेंट क्लियरेंस के सेनजोष सुप्रीम टोलवेज प्रा.लि. ने बनाये 5 अण्डरपास उनमें भी 4 आउट

बैस्ट रिपोर्टर न्यूज,जयपुर। जयपुर की बहुचर्चित एवं बहुप्रतीक्षित परियोजना ‘रिंग रोड़’ के दक्षिणी जोन(47 किलोमीटर-आगरा रोड़ से अजमेर रोड़) हेतु अनुबंधित कम्पनी सेनजोष सुप्रीम टोलवेज प्रा.लि. द्वारा अनुबंध की धज्जियाँ उड़ाते हुए अपोइंटेड डेट तो दूर ‘कनडीषनल अपोइंटेड डेट एवं एनवायमेंट क्लियरेंस के बिना ही मौके पर एक-दो नहीं पाँच-पाँच अण्डरपासों का काम 50 प्रतिषत तक पूर्ण कर डालने का मामला प्रकाष में आया है। इतना ही नहीं इन पांच अण्डपासों (खेड़ीगोकुलपुरा,दादिया,सीतारामपुरा,महापुरा एवं एक अन्य) में से 4 अण्डरपास ऐसे हैं जो सैक्टर प्लान के मुताबिक बनने कहीं और चाहिए थे जबकि काॅलोनाईजरों के हितों...

यहां लड़की पैदा होने पर बजती है थाली, गर्भ में मारे जाते हैं लड़के

हम अपने पाठकों को ऐसी कड़वी हकीकत से रूबरू करवाने जा रहे हैं जो विकास की अंधी दौड़ में भाग रहे मेट्रो शहरों के लोगों के लिए अनसुनी है। क्या कोई लड़की पैदा होने पर थाली बजाता है? राजस्थान के पश्चिमी सीमावर्ती क्षेत्र में बाड़मेर के समदड़ी क्षेत्र के सांवरड़ा, करमावास, सुइली, मजलव लाखेटा इत्यादि गावों में ऐसा ही होता है। कारण है यहां की महिलाओं के रग-रग में बस चुका वैश्यावृति का धंधा। समदड़ी क्षेत्र के आधा दर्जन गांवो में जिस्मफरोशी रोजमर्रा की हकीकत है। वेश्यावृति के दलदल में फंसे इस क्षेत्र की सबसे बड़ी ओर आश्चर्यजनक हकीकत जान आप भी आश्चर्य चकित रह जाएंगे।यहां गर्भ में मारे जाते हैं...

शहादत देने पर भी नहीं मिला शहीद का दर्जा

26 नवम्बर 2008 को ताज होटल पर हुए आतंकी हमले के दोषियों को भले ही आज तक सजा न मिली हो लेकिन एक शहीद का परिवार अब सरकारी उपेक्षा का शिकार होकर दाने-दाने को मोहताज हो गया है।   यह कहानी हमले के बाद उठे धुएं के कारण बीमार हुए शहीद हरिकेश के परिजनों व उस विधवा की है जो केवल इस आस में बैठे हैं कि देश के लिए अपनी जान देने के बावजूद शहीद को सम्मान कब मिलेगा। कैथल जिले के सिसमौर निवासी मिस्त्री रामदिया का बेटा हरिकेश 2001 में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स में भर्ती हुआ था।   मुंबई हमले के दौरान ही उसे रैसक्यू आप्रेशन ब्लैक टेरिनोडी में शामिल कर ताज होटल पर तैनात कर दिया गया। अन्य सहयोगियों के साथ...

गुर्दा व्यापार की गिरफ्त में प.बंगाल

गुर्दा या शरीर के किसी भी अंग की खरीद और बिक्री भारत में गैरकानूनी है। बावजूद इसके सभी जानते हैं कि ये देश के हर हिस्से में काफी तेजी से फैल रहा है। लेकिन बहुत से लोग इस बात से अनजान हैं कि ये धंधा कैसे फल-फूल रहा है.अब्दुल रज्जाक पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर जिले के छोटे से गाँव बिंडोल के रहने वाले हैं। उन्होंने बताया कि ये पूरा रैकेट कैसे काम करता है।रज्जाक इस पूरे गिरोह को काफी भीतर से जानते हैं क्योंकि वे खुद देश के इस बड़े ‘व्यापार’ के हिस्सा रह चुके हैं। गैरकानूनी किडनी रैकेट के एक अन्य बड़े व्यापारी कुद्दुस को कुछ हफ्तों पहले गिरफ्तार किया गया था और इस समय वे न्यायिक हिरासत में...

सम्पादकीय

Print

क्या आप और हम अच्छे व देशभक्त इंसान हैं ?

क्या आप और हम अच्छे व देशभक्त इंसान हैं ?

ये क्या हो रहा है हमारे देश में ?

कुछ लोग संघ मुक्त भारत बनाने में जुटे हैं,कुछ कांग्रेस मुक्त भारत बनाने में दिन रात एक किए हुए हैं और कुछ ऐसे भी हैं जो संघ और कांग्रेस दोनों से मुक्त भारत का सपना देख रहें हैं परन्तु इन सभी के पास शायद समस्या मुक्त भारत बनाने का वक्त ही नहीं है। जबकि समस्या मुक्त भारत ही आप और हम जैसे देशवासियों की अपरिहार्य आवश्यकता है।

राम,गाँधी और शहीदों का नाम जपने से नहीं वरन् उनके बताये रास्ते पर चलने से ही सकारात्मक परिवर्तन संभव है। नाम जपना आसान होता है परन्तु मर्यादित होकर महानता के रास्ते पर चलना मुशकिल। इसलिये कुछ लोग गाँधी के नाम पर,कुछ राम के नाम पर और कुछ लोग शहीदों के नाम पर अपनी—अपनी राजनीतिक रोटियाँ सेकने में पूरी तन्मयता से लगे हुए हैं। लेकिन दोष इनका नहीं है, आप और हम जैसे लोग भी कम मूर्ख नहीं हैं जो सबकुछ जानते हुए भी धर्म,जाति,क्षेत्र,भाषा,व्यक्ति,पार्टी,व्यवसाय और न जाने किस किस बात पर अपनी एकता का प्रदर्शन करते रहते हैं परन्तु देश के नाम पर एकता,उसका क्या?

हमारी देशभक्ति हमारे शब्दों तक दि

संस्कार गुरूमंत्र

बैस्ट रिपोर्टर शख़सियत

विशेष प्रसारण (PAID)

विशेष रिपोर्ट: आईना प्रगति आज तक

महिला बाल विकास समाचार