Print

डिम्पल कपाडिया की मौजूदगी में ​फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन का उद्घाटन सत्र सम्पन्न

Written by कार्यालय,बैस्ट रिपोर्टर न्यूज,जयपुर on . Posted in अन्य अवर्गीकृत समाचार

डिम्पल कपाडिया की मौजूदगी में ​फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन का उद्घाटन सत्र सम्पन्न

बैस्ट रिपोर्टर न्यूज,जयपुर। जयपुर स्थित होटल ललित में फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन जयपुर चैप्टर द्वारा आयोजित उद्घाटन सत्र सम्पन्न हुआ। उद्घाटन सत्र में बॉलीवुड अभिनेत्री डिंपल कपाडिया ने शिरकत की । फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन की चेयरपर्सन श्रीमती नीताशा चौरडिया ने "द स्क्रीनप्ले ऑफ लाइफ" टॉपिक पर बालीवुड अभिनेत्री डिम्पल कपाडिया से विस्तृत चर्चा की। डिम्पल ने एक अभिनेत्री, एक स्टार, एक पत्नी, एक माँ, एक सास, एक नानी - के रूप में अपने जीवन की कहानी में अनेक भूमिका निभाई हैं। चेयरपर्सन नीताशा चोरडिया ने फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन के नए पदाधिकारी और कार्यकारी समिति के सदस्यों की घोषणा की और उनको सबसे रूबरू कराया। इस सत्र में जयपुर के प्रसिद्ध गणमान्य व्यक्ति - महापौर अशोक जी लाहौटी, श्री राजीव जी दासोत, श्री सुबोध जी अग्रवाल, श्रीमती रौली अग्रवाल और कई अन्य लोग भी शामिल थे। चेयरपर्सन श्रीमती चौरडिया ने कहा कि "महिलाएं इतनी मजबूत और शक्तिशाली नेता हैं, लेकिन बहुत बार हम इसे बयान नहीं करते !! मैं अपने प्रतिबद्ध, उत्साही और गतिशील टीम के साथ एक उत्

Print

राजस्थान में भूअभिलेखों में जल्दी दिखेगा ई-धरती सॉफ्टवेयर का कमाल

Written by स्वत्वाधिकारी,बैस्ट रिपोर्टर न्यूज,जयपुर on . Posted in अन्य अवर्गीकृत समाचार

राजस्थान में भूअभिलेखों में जल्दी दिखेगा ई-धरती सॉफ्टवेयर का कमाल

राजस्थान में भूअभिलेखों के प्रबंधन के क्षेत्र में डिजीटलाइजेशन के बाद अब जल्दी ही ई-धरती सॉफ्टवेयर का कमाल दिखने लगेगा.

सूत्रों के अनुसार राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र (एनआईसी) द्वारा तैयार किए गए इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से राज्यभर के एक ही खाते में शामिल सभी खातेदारों के नामों का पृथक्कीकरण (सेग्रिगेशन) किया जायेगा. इसमें हरेक खातेदार का पृथक व संपूर्ण विवरण होगा तथा उसके हिस्से की भूमि भी स्पष्ट दर्शायी जायेगी.

इस समय उपलब्ध भूअभिलेखों के खातों में सभी के नाम शामिल होने के कारण खाते से संबद्ध लोगों को सीधे ही वैयक्तिक सूचना पाना आसान नहीं था. पुरानी पद्धति की वजह से कम्प्यूटर एक खाते में शामिल सभी की जानकारी पृथक-पृथक दे पाने की स्थिति में नहीं था.

ई-धरती में यह सुविधा है कि वह जमाबंदी में दर्ज सभी खातों के खातेदारों का पृथक-पृथक इन्द्राज कर हर खाते में शामिल भूमिधारकों की व्यक्तिश: पूर्ण सूचना भी उपलब्ध करा देता है. इससें भूमि की स्थिति भी स्पष्ट रहती है जो कि कम्यूटर द्वारा गणितीय आधार पर निकाली जाती है.

इससे हर खाते में शामिल