Print

घोटालेबाज नीरव मोदी के लिए बढ़ी मुसीबत

घोटालेबाज नीरव मोदी के लिए बढ़ी मुसीबत
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को कहा कि उसने नीरव मोदी समूह के करीब 44 करोड़ रुपए कीमत की बैंक जमा और शेयरों के लेन-देन पर रोक लगा दी है और अरबपति हीरा कारोबारी से संबंधित स्थानों से आयातित घड़ियों का विशाल संग्रह जब्त किया है।
 
अधिकारियों ने बताया कि धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत उन्होंने बैंक खातों और शेयरों के लेनदेन पर रोक लगा दी है। बैंक खातों में 30 करोड़ रुपये हैं, जबकि शेयरों की कीमत 13.86 करोड़ रुपए है।
 
उन्होंने बताया कि पिछले एक हफ्ते में अरबपति हीरा कारोबारी से संबंधित अलग अलग स्थानों पर ईडी की तलाशी में महंगी घड़ियों का जखीरा, 176 स्टील की अल्मारियां, 158 संदूक और 60 अन्य बक्से जब्त किए गए हैं। एजेंसी ने व्यापारी और उसके समूह की बैंक जमा, शेयर और लग्जरी गाड़ियां जब्त की हैं जिनकी कीमत 100 करोड़ रुपए से ज्यादा है।
 
 
ईडी और अन्य एजेंसियां मोदी, उसके मामा एवं गीतांजलि जेम्स के प्रोमोटर मेहुल चोकसी के खिलाफ जांच कर रही हैं। दरअसल पंजाब नेशनल बैंक(पीएनबी) की शिकायत के बाद मामला सामने आया था कि उ
Print

2,000 रुपये का 4जी स्मार्टफोन लाने की तैयारी में स्वदेशी कंपनियां

2,000 रुपये का 4जी स्मार्टफोन लाने की तैयारी में स्वदेशी कंपनियां

डिजिटल इंडिया अभियान से देश के हर वर्ग को जोड़ने के लिए सस्ते कीमत वाले 4जी स्मार्टफोन जल्दी ही लॉन्च हो सकते हैं। केंद्र सरकार ने पिछले दिनों सस्ते 4जी स्मार्टफोन की जरूरत बताई थी। इस पर दो स्वदेशी मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों का कहना है कि वे 1 महीने के भीतर 2,000 रुपये तक का 4जी स्मार्टफोन मुहैया करा सकती हैं। कार्बन और इंटेक्स का कहना है कि नीति आयोग की इच्छा के मुताबिक वह ये मोबाइल तैयार कर सकती हैं, लेकिन इसके लिए ऑर्डर का साइज और प्रॉडक्ट को आगे बढ़ाने के लिए सरकार की नीति महत्वपूर्ण होगी।

हालांकि 2,000 रुपये तक की कीमत वाले इन स्मार्टफोन्स की बैट्री, कैमरा और प्रॉसेसर बहुत उन्नत नहीं होंगे। हाल ही में स्वदेशी मोबाइल निर्माता कंपनियों कार्बन, लावा, इंटेक्स और माइक्रोमैक्स के साथ मीटिंग में नीति आयोग ने ऐसा 4जी फोन लाने की जरूरत पर जोर दिया था, जो सबकी पहुंच में हो। इस पर कार्बन मोबाइल मैनेजिंग डायरेक्टर प्रदीप जैन ने कहा, 'हम एक महीने के भीतर लो-बजट 4जी फोन मार्केट में ला सकते हैं। लेकिन सरकार को कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर अपनी

Print

PM मोदी से जुड़ी वो पांच बातें जो आप जरूर जानना चाहेंगे

PM मोदी से जुड़ी वो पांच बातें जो आप जरूर जानना चाहेंगे

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार 65 वर्ष के हो गए और उनके जन्मदिन के अवसर पर राजनीति के क्षेत्र से जुड़े कई नेताओं ने उनके अच्छे स्वास्थ्य एवं लंबी आयु की कामना करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। प्रधानमंत्री मोदी एक अच्छे वक्ता के साथ कई गुणों के धनी है। वह बिना किसी सहायता के लंबे समय तक भाषण देने की क्षमता रखते हैं। पेश हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में वो पांच बातें जो शायद आप नहीं जानते होंगे और जरूर जानना चाहेंगे।

कवि

पीएम नरेंद्र मोदी के बारे में यह बात बहुत कम लोग जानते हैं कि वह एक कवि भी हैं। उन्हें कविताओं से गहरा प्रेम हैं। उनकी एक कविता संग्रह 'साक्षी भव' भी प्रकाशित हुई है जिसमें 19 कविताएं है।

किताबों के शौकीन

पीएम नरेंद्र मोदी किताबों के शौकीन हैं। वह फुर्सत निकालकर हमेशा अपने शौक से जुड़ी किताबें पढ़ते हैं। गौर हो कि 4 सितंबर को शिक्षक दिवस के कार्यक्रम के मौके पर एक किताब का जिक्र किया था- पोलीएना। उन्होंने कहा था-' बहुत बार खुद से ज्यादा औरों की घटनाओं से प्रेरणा मिलती है। लेकिन उसके लिए हमें खुद

Print

‘नमो चाय’ को चुनाव आयोग ने माना रिश्वत

‘नमो चाय’ को चुनाव आयोग ने माना रिश्वत

 बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेंद्र मोदी के नाम पर चाय पिलाने को मतदाताओं को लुभाने के लिए रिश्वत माना गया है। ऐसे ही एक मामले में लखीमपुर खीरी में मोहम्मदी नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन संदीप मेहरोत्रा, भाजपा के नगर अध्यक्ष और ३० अन्य कार्यकर्ताओं पर चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन और आईपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसके साथ ही राज्य निर्वाचन आयोग ने ‘नमो चाय’ पर रोक लगा दी है। आयोग ने प्रदेश के सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को पत्र भेज कर ऐसे मामलों में आचार संहिता के उल्लंघन की कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मोहम्मदी कोतवाली के एसएसआई राम सिंह पंवार की ओर से दर्ज मुकदमे में आरोप है कि शनिवार शाम करीब साढ़े सात बजे पूर्व चेयरमैन संदीप मेहरोत्रा के नेतृत्व में नगर अध्यक्ष बरतरिया और करीब ३० कार्यकर्ता दो बड़ी स्क्रीन वाली टीवी से साउंड सिस्टम लगाकर बीजेपी नेताओं का भाषण सुना रहे थे। यहां मौजूद लोगों को मुफ्त में चाय पिलाई जा रही थी। कार्यक्रम के लिए अनुमति भी नहीं ली गई थी। एसएसआई के मुताबिक, पुलिस टीम के मौके पर